Home लाइफ स्टाइल हेल्थ कच्‍चा दूध के नुकसान | Drinking Raw Milk Is Harmful in Hindi

कच्‍चा दूध के नुकसान | Drinking Raw Milk Is Harmful in Hindi

114
0

कभी ना पिएं कच्‍चा दूध, Drinking Raw Milk Is Harmful in Hindi शरीर के लिए है काफी खतरनाक, जानें इसके सेवन से होने वाली समस्‍याओं को.

Drinking Raw Milk Is Harmful in Hindi

Drinking Raw Milk Is Harmful in Hindi

हमारी शरीर के लिए दूध एक जरूरी फूड है. रोज एक गिलास दूध हमारे शरीर में प्रोटीन और कैल्शियम की जरूरतों को पूरा करता है और हड्डियों को मजबूत करने के साथ साथ विकास में मदद करता है.

दूध में कई पोषक तत्व और एंजाइम्‍स होते हैं जो रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने में मदद करते हैं.

आमतौर पर तो लोग दूध को उबालकर पीते हैं लेकिन कई लोग ऐसे हैं जो कच्चा दूध पीना पसंद करते हैं.

यह भी मानना है कि कच्चा दूध शरीर के लिए काफी फायदेमंद है लेकिन नए शोधों मे यह पाया गया है कि कच्चा दूध के सेवन से शरीर में कई समस्‍याएं हो सकती हैं.

एक शोध में पाया गया की किसी भी जानवर के दूध में सैल्‍मोनेला, ई कोली, लिस्‍टेरिया जैसे हानिकारक बैक्‍टीरिया मौजूद होते हैं जिन्‍हें बिना उबाले पिया जाए तो फूड प्‍वॉइजनिंग की शिकायत हो सकती है. तो आइए जानते हैं कि कच्‍चा दूध पीने के क्‍या क्‍या नुकसान हो सकते हैं.

इसे भी पढ़ेंः कोरोना की तरह फैलता है नोरोवायरस

कच्‍चा दूध के नुकसान

  • कच्चे दूध में भरपूर मात्रा में पोषक तत्‍व होते हैं जिसकी वजह से हवा के संपर्क में आते ही इसमें बैक्टीरिया पनपने लगते हैं. यही वजह हैं कच्‍चा दूध जल्‍दी खराब भी हो जाते हैं.
  • कच्चे दूध में कई ऐसे बैक्टीरिया होते हैं जो हमारे शरीर में पहुंचकर रिऐक्टिव आर्थराइटिस से लेकर डायरिया, डिहाइड्रेशन, गुलियन-बैरे सिंड्रोम और हीमोलिटिक यूरिमिक सिंड्रोम जैसी गंभीर बीमारियों को पैदा कर सकते हैं.
  • इसके सेवन से मतली आना, उल्‍टी या डायरिया आदि होने की संभावना बहुत अधिक होती है.
  • कच्‍चा दूध जब निकाला जाता है तो यह दूध पशु के थन या कई बार जानवरों के मल के संपर्क में आ जाता है. जिस वजह से दूध दूषित होने की संभावना बढ़ जाती है.
  • कमजोर इम्‍यूनिटी वाले लोग, बच्‍चे और युवाओं के लिए कच्चा दूध और अधिक नुकसान पहुचा सकता है.
  • कच्चे दूध में कई ऐसे बैक्टीरिया भी होते हैं जो  टीबी के साथ-साथ कई जानलेवा बीमारी का संक्रमण कर दें.
  • शरीर के लिए जरूरी है कि एसिड लेवल कंट्रोल में रहे लेकिन जब लोग कच्चा दूध पीते हैं तो यह कंट्रोल में नहीं होता और शरीर में एसिडिटी की मात्रा बढ़ जाती है.

इसे भी पढ़ेंः जानिए जुंबा वर्कआउट के फायदे

Previous articleसावन मास में शिवलिंग पर क्या अर्पण करें | Sawan ka Mahina 2021
Next articleMeasures to stop the third wave of Corona in Hindi