Home लाइफ स्टाइल दूध वाली चाय का विकल्प | Alternative of milk tea in Hindi

दूध वाली चाय का विकल्प | Alternative of milk tea in Hindi

145
0

इस आर्टिकल में हम दूध वाली चाय का विकल्प | Alternative of milk tea in Hindi के बारे में जानेंगे ।

Alternative of milk tea in Hindi

Alternative of milk tea in Hindi

कुछ व्यक्ति को दूध वाली चाय पीने की ऐसी आदत होती है कि सुबह की सुस्ती और काम की थकान से लेकर सिर दर्द और मूड सब कुछ चाय पीकर ही ठीक करते हैं.

यदि मौसम बारिश का हो तो फिर चाय पीने की आदत इस कदर ज़ोर मारती है कि हर एक-दो घंटे में चाय पीने का मन करता है.

लेकिन आपको तो पता ही है  कि चाय का ज्यादा सेवन करने से सेहत को कई तरह की दिक्कतें होने का खतरा बना रहता है.

इसलिए यदि बारिश के मौसम में आपका मन भी बार-बार चाय पीने का करता है तो आप चाय को यहां बताई जा रही चीजों से रिप्लेस कर सकते हैं.

इससे आपकी ज्यादा चाय पीने की आदत भी कंट्रोल होगी और सेहत को कई तरह के फायदे भी मिल सकेंगे.

इसे भी पढ़ेंः – मुंह की बदबू से छुटकारा

दूध वाली चाय का विकल्प

१.हर्बल टी

दूध वाली चाय पीने की बजाय यदि आप हर्बल टी का सेवन करेंगे तो ये आपके लिए बेहतर साबित होगा.

ये आपकी चाय पीने की इच्छा को तो पूरा करेगी ही साथ ही सेहत को कई फायदे भी पहुंचायेगी.

क्योंकि इस चाय में कैफीन नहीं होता है और ये कई तरह की खास जड़ी- बूटी, फल, अदरक, पेपरमिंट, गुड़हल के फूल और  लेमन ग्नास जैसी चीजों को मिलाकर तैयार की जाती है.

इसके सेवन से आपकी इम्यूनिटी तो स्ट्रांग होगी ही साथ ही कई और तरह की सेहत सम्बन्धी दिक्कतें भी दूर होंगी.

२.ग्रीन टी

जब भी आपका मन चाय पीने का करे तो आप इसकी जगह ग्रीन टी का सेवन कर सकते हैं.

ग्रीन टी में कैफिन की मात्रा बेहद कम होती है. इसको कमीलया साइनेंसिस के पत्तों से तैयार किया जाता है.

ग्रीन टी इलायची, तुलसी, शहद, नींबू , अदरक और पुदीना के अलग-अलग फलेवर में मिल जाती है.

ये वजन कम करने के साथ ही सेहत सम्बन्धी कई और दिक्कतों को दूर करने में भी मदद करती है.

इसे भी पढ़ेंः – ये 4 टिप्स रखेंगी बारिश के मौसम में बच्चों स्वस्थ

३.ब्लैक टी

दूध वाली चाय को आप ब्लैक टी से भी रिप्लेस कर सकते हैं. जब भी आपका चाय पीने का मन करे तो आप दूध वाली चाय की जगह ब्लैक टी पी सकते हैं. इसको कई जगहों पर रेड टी के नाम से भी जाना जाता है.

यदि आप चाहें तो इस चाय में अपनी पसंद के अनुसार अदरक और इलायची का फ्लेवर भी एड कर सकते हैं.

ये चाय स्वाद के साथ डायबिटीज और हाई कोलेस्ट्रॉल जैसी कई और दिक्कतों से बचाने में भी आपकी मदद करेगी.

Previous articleगाजर खाने के पांच फायदे  | Carrot eating benefits in Hindi
Next articleसोया के पत्तों के स्वास्थ्य लाभ | Benefits Of Soya Leaves In Hindi